Tuesday, September 26, 2017

हुंकार




हमने भी खून बहाया कुछ तुमने भी बलिदान दिया 
तब जाकर मिली हमें फिरंगियों से आज़ादी,
भगत सिंह ने फंदा चूमा तो असफाकउल्ला भी शहीद हुए हुए
क्या हिंदु मुस्लिम करते हो कुछ इंसानियत के काम करो, 
पाकिस्तान को मारो गोली अब हिंदुस्तान की बात करो
पडोसी अगर बदमाश है तो  मिलकर उसपर वार करो.
ज़िंदा दफना दो उनको जो अफ़ज़ल की अब बात करे 
दीवारों में चुनवा उनको  जो  सेना पर अब पथराव करे.
गला काट दो उनका जो भारत माता को बदनाम करे
चीर के रख दो उनको अब जो हाफिज सईद की बात करे. 
आँख फोड़ दो उनकी जो बुरी नज़र से कश्मीर को देखे
पाकिस्तान को दिखला दो अब क्या उसकी औकात है  
हाफिज सईद का सर काटकर लालकिले पर टंगवा दो,
हमने भी खून बहाया कुछ तुमने भी बलिदान दिया 
आओ मिलकर हुंकार भरें जब दुश्मन ने ललकारा दिया।

No comments:

Post a Comment

NILESH MATHUR

Search This Blog

www.hamarivani.com रफ़्तार