Thursday, January 16, 2014

प्रेम क्या है?



प्रेम क्या है?
धोखा, फरेब या वफ़ा है,
या किसी कि रगों में बहता
नशा है,
ये महज़ 
एक खुबसूरत लफ्ज़ है
या भावनाओ से
खिलवाड़ करने का अचूक अस्त्र है,
त्याग है बलिदान है
या बहेलिये का जाल है,
नहीं नहीं 
ये तो शायद 
ईश्वर का वरदान है। 



1 comment:

  1. वाह ! बहुत बढ़िया प्रस्तुति . आभार . नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं .

    ReplyDelete

NILESH MATHUR

Search This Blog

www.hamarivani.com रफ़्तार