Sunday, February 12, 2012

शुक्रिया ज़िंदगी



आज मेरी उम्र ने एक कदम और बढाया है, जो भी जीवन पथ पर मिले उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूँ, जीवन में बहुत स्नेह मिला है, ठोकर भी बहुत खाई, क्या हुआ जो कुछ चोटें और घाव लगे, इन ठोकरों ने ही सही मायने में जीना सिखाया, फिर भी आज जब जीवन का बही खाता निकाल कर देखा तो स्नेह, अपनत्व और दोस्तों का पलड़ा भारी था!  


जिन्होंने मुझे  
स्नेह दिया
उनका तहे दिल से 
शुक्रिया,
32 years ago
जो खेले 
मेरी भावनाओं से
और जिन्होंने 
जख्म दिए 
उनका भी शुक्रिया,


उम्र यूँ ही गुज़र जाएगी
बीता हुआ 
हर एक लम्हा 
याद आएगा ,


बीते हुए लम्हों को
जब आईने में 
देखता हूँ
रंग बिरंगी सी 
तस्वीर उभर कर आती है,
कहीं कहीं 
कुछ धब्बे ज़रूर हैं
कुछ घाव 
और चोट के 
निशान भी हैं   
और संघर्ष की 
दास्तान है, 
पर फिर भी
बहुत हसीन लम्हों में 
सिमटी है ज़िन्दगी मेरी! 



12 comments:

  1. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  2. बीते हुए लम्हों को संभाल कर रखें , जन्मदिन के हार्दिक बधाई

    ReplyDelete
  3. जन्म दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  4. जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएँ सर!


    सादर

    ReplyDelete
  5. जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएँ.........

    ReplyDelete
  6. अच्छी अभिव्यक्ति, हार्दिक शुभकामनाएँ !

    ReplyDelete
  7. janam din ki badhai ........ sunder rachna

    ReplyDelete
  8. सुन्दर भाव...

    अनेकों शुभकामनाएँ, जन्मदिवस की...

    ReplyDelete
  9. बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति ... जन्‍मदिन की शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
  10. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  11. सच कहा अपने बस यादें हे तो रह जाती है। याद करने के लिए जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें स्वीकार करें....

    ReplyDelete
  12. बहुत हसीन लम्हों में
    सिमटी है ज़िन्दगी मेरी!

    बहुत अच्छी अभिव्यक्ति । मेरे पोस्ट पर आकर मुझे प्रोत्साहित करें । धन्यवाद ।

    ReplyDelete

NILESH MATHUR

Search This Blog

www.hamarivani.com रफ़्तार