Monday, November 14, 2011

कमल कीचड़ में भी खिलते हैं



ये सच है 
कि कमल कीचड़ में भी खिलते हैं
आज शहर की
एक बस्ती में मैंने
कमल के झुण्ड देखे थे,
हां बहुत प्यारे से बच्चे थे वो
बिलकुल कमल के फूल जैसे!

22 comments:

  1. वाह बहुत खूब ... यह कमल यूँ ही खिले रहे यही दुआ है !

    ReplyDelete
  2. एक सत्य को बयाँ कर दिया।

    ReplyDelete
  3. बहुत सही कहा है आपने ... ।

    ReplyDelete
  4. सत्य वचन ....समय मिले कभी तो आयेगा मेरी पोस्ट पर आपका स्वागत है

    ReplyDelete
  5. बहुत बहुत ही सुन्दर...बिलकुल कमल सी पंक्तियाँ .

    ReplyDelete
  6. वाह....सार्थक रचना

    नीरज

    ReplyDelete
  7. सही फ़रमाया आपने .....

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर अहसास।

    ReplyDelete
  9. कमाल केचाद में जरूर खिलते हैं पर पारखी या उनके भी देख रेख करने वाला होना चाहिए ...

    ReplyDelete
  10. आप की पोस्ट ब्लोगर्स मीट वीकली (१८) के मंच पर शामिल की गई है/.आप आइये और अपने विचारों से हमें अवगत करिए /आप हिंदी की सेवा इसी तरह करते रहें यही कामना है /आपक ब्लोगर्स मीट वीकली के मंच पर स्वागत है /आइये /आभार /

    ReplyDelete
  11. अच्‍छे शब्‍द संयोजन के साथ सशक्‍त अभिव्‍यक्ति।

    संजय भास्कर
    आदत....मुस्कुराने की
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    ReplyDelete
  12. Great
    bahut din baad aana hua
    man khush ho gaya .......kamal ka guldasta dekhkar lol nice pic also

    ReplyDelete
  13. हां बहुत प्यारे से बच्चे थे वो
    बिलकुल कमल के फूल जैसे.bahut achcha expression.

    ReplyDelete
  14. बहुत बहुत बढ़िया......................

    ReplyDelete

NILESH MATHUR

Search This Blog

www.hamarivani.com रफ़्तार