Monday, August 22, 2011

शूरवीर अन्ना

शूरवीर अन्ना
निकल पड़े
ब्रह्मास्त्र लिए
रण के मैदान में,
ये युद्ध है
भ्रष्टाचार के विरुद्ध,
सवा करोड़ की सेना देख
दहल उठा है
सत्ता पक्ष
और दहल उठे
सब भ्रष्टाचारी,
अन्ना ने किया है युद्धघोष
अब उठना होगा
हमें चिरनिद्रा से,
और दिखाना होगा
कि हमारी रगों में
अब भी
बहता है खून पानी नहीं!

6 comments:

  1. संक्रमण काल चल रहा है ...
    भविष्य में अच्छे की कामना करते हैं !
    जन्माष्टमी शुभ हो !

    ReplyDelete
  2. अन्ना ने किया है युद्धघोष
    अब उठना होगा
    हमें चिरनिद्रा से,
    और दिखाना होगा
    कि हमारी रगों में
    अब भी
    बहता है खून पानी नहीं
    बहुत ही सुंदर विचार / शानदार अभिब्यक्ति के लिए बधाई आपको /जन्माष्टमी की आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं /
    आप ब्लोगर्स मीट वीकली (५) के मंच पर आयें /और अपने विचारों से हमें अवगत कराएं /आप हिंदी की सेवा इसी तरह करते रहें यही कामना है /प्रत्येक सोमवार को होने वाले
    " http://hbfint.blogspot.com/2011/08/5-happy-janmashtami-happy-ramazan.html"ब्लोगर्स मीट वीकली मैं आप सादर आमंत्रित हैं /आभार /

    ReplyDelete
  3. जन्माष्टमी की शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete

NILESH MATHUR

Search This Blog

www.hamarivani.com रफ़्तार